a Hindi poems written in hindi means hindi kavita.

#55 चित- मन का लहरी
A hindi poem on heart and heart listener expressing the thought how HEART and mind want to travel fearless.

#55 चित- मन का लहरी

  मन का लहरी सज संवर कर, स्वच्छन्द जहां विचरण करता, सार्वभौम जो सत्य जहां पर, जाने कौन कब कैसे तरता, चलते फिरते खडे खडे यूं, बातों बातों अन्तिम मंजिल…

0 Comments
#54 दिल्ली दंगा
Delhi Dange February 2020

#54 दिल्ली दंगा

काश्मीर से हटी क्या धारा तीन सौ सत्तर, भडकाकर लोगों को दिल्ली पर बरसा दिया पत्थर, जमाना बेबाक निष्ठुर ढंग से देखता रह गया, और जमाने ने जमाने को आइना…

0 Comments
#53 स्मृति
poem on memory

#53 स्मृति

क्यों स्मृति यूँ सताती। जग में न कोई वैरी दूजा, पल में रुलाती पल में हसाती, पल में मजबूर सोंचनें को करती, हर पल यह एहसास जताती, क्यों स्मृति यूं…

0 Comments
#52 हिन्दुस्तान
hindustan india bharat

#52 हिन्दुस्तान

फतवे लगते हैं तो लगनें दो । मुझे गुरेज नहीं ठेकेदारों से, नहीं परवाह मुझे कौम किरदारों से, मैं हिन्दुत्व पर भी चाहे गर्व न करूं, पर परहेज नहीं भारत…

1 Comment